Content मोहल्ला

II अपनी भाषा , अपना मंच II

Category

कहानी

ठंडी चाय

चाय तो मुझे शुरू से पसंद थी । पहली बार मिला तो उसने बताया, उसे मैं पसंद थी और मुझे चाय। चाय पर हम मिलने लगे ।उसकी बातों की चुस्कियों में मैं खोने लगी।बातें लंबी होती गयी और चाय ठंडी… Continue Reading →

कंबल

बहुत दिनों बाद दोनों दोस्त आज काॅफी हाउस में मिले।गर्मागर्म कॉफ़ी की चुस्कियों के साथ 2019 आम चुनाव की बातें चलने लगीं। बातें जो शुरु हुईं,तो ख़त्म होने का नाम ही न ले रही थीं। ठहाके पर ठहाके, वातावरण खुशनुमा… Continue Reading →

चिर-इंतज़ार

प्रतिदिन सुबह आर ब्लॉक के निकट देवी-मंदिर में पूजा करने जाते हुए मैं उस वृद्धा को मंदिर के बाजू के मकान के गेट पर बैठे देखा करती थी। सुबह-सवेरे वो तैयार होकर बैठी दिखती थी जैसे उसे किसी के आने… Continue Reading →

सीवर का ढ़क्कन

आज तीसरे दिन कर्फ्यू में चार घंटे की छूट दी गई थी—– हम लोग हालात नियंत्रण के लिए गश्ती पर निकले हुए थे— रास्ते में आम जनता से अधिक रैपिड एक्शन फोर्स के जवान नज़र आ रहे थे। सड़कों के किनारे लगे… Continue Reading →

लाजो

मेरा नाम तो है लाजवंती लेकिन गांव के लोग मुझे लाजो कह के बुलाते हैं। हमारे गांव से सिर्फ दस किलोमीटर की दूरी पर पाकिस्तान की सरहद है। बचपन में ही बाप का साया सर से उठ गया था तब… Continue Reading →

लाइन ऑफ़ कंट्रोल

बात बहुत मामूली थी। सबेरे नौ बजे शहर के अहीर टोले का एक लड़का गोपीचंद यादव हमेशा की तरह साइकिल से कॉलेज जा रहा था। बी.ए फाइनल ईयर का छात्र था। रास्ते में मुसलमानों का एक मुहल्ला था दिलावरपुर। दिलावरपुर… Continue Reading →

कालाघर

एक ऐसी जगह जहां काला रंग श्रेष्ठता का प्रतीक है,जहां काले रंग की महिलाओं के लिए पुरूष तरसते है। जहां मुझ अभागे को इसीलिए संगनी नहीं मिली क्योंकि इनके पैमाने पर मेरे बदन का रंग गेरुआ है, दूसरी नजर में… Continue Reading →

इंतज़ाम

दिनभर की मेहनत से थके शरीर रात में खाने के सामने या बिस्तर पर अपनी मौजूदगी दर्ज करा रहे थे, परन्तु कुछ जीवन अभी भी भटक ही रहे थे । ऐसा ही एक जीव था किशन। ओम के दरवाजे पर… Continue Reading →

समंदर या पहाड़?

जुहू बीच पर बैठे हुए उसने उसका हाथ पकड़कर पूछा, तुम्हें समंदर पसंद है या पहाड़? उसने उसके हाथ पर अपना हाथ रखते हुए उसकी आँखों में झांका और कहा, मुझे समंदर पसन्द है। लड़का असमंजस में आ गया और… Continue Reading →

© 2019 Content मोहल्ला — Powered by The Sociyo

Up ↑